Untold love story-Arshi – best hindi kahani




Untold love storyArshi

हेलो मेरा नाम अर्शी है , ये story तब की है जब मैं 10th क्लास में थी और मेरे घर के पास एक लड़का रहता था उसका नाम बनी था और वो भी 10th क्लास का ही था पर वो दूसरे स्कूल से था और मैं दूसरे स्कूल से | लेकिन हम दोनों एक ही ट्यूशन में पढ़ते थे जो पास में ही था | एक दिन मैंने बनी से बात करने की ठान ली और वह क्लास में जैसे आया तो उसे देख कर मैं क्या बोलने वाली थी वो भूल गई |

लेकिन उस दिन गजब हो गया ……..

बनी खुद आकर मुझे hello बोला और कहा की कैसी हो तुम मैं तुम्हें रोज देखता हूँ लेकिन कभी बात नहीं कर पाता | आज मौका मिला है तुम से बात करने को और धीरे-धीरे हमारी बात होने लगी और हम अच्छे दोस्त बन गए |

लगभग 5 महीने त गये और एक दिन बनी आया और बोला की तुमसे कुछ  बात करनी है तो मैंने कहा हाँ बोलो तो बनी ने डायरेक्ट ही मुझे propose कर दिया और कहा की तुम मुझे बहुत पसंद हो ….

मैं बहुत खुश हुई लेकिन बनी को गुस्से से देखने लगी बनी मायूस हो कर अपना सर नीची झुका लिया और मैं हसते हुए उसे गले लगा कर बोली i love you too तभी बनी ने कहा की तब तुम मुझे गुस्से से क्यूँ देख रही थी … तो मैंने हस कर कहा की मैं मज़ाक कर रही थी | तभी बनी ने कहा की तुम मज़ाक कर रही थी मुझे लगा की अब तुम मुझे थप्पड़ मरोगी तो मैं हँसाने लगी और बनी के गले लग गई और फिर मैंने कहा माफ़ कर दो तुम्हें डराने के लिए ….

और हम एक दुसरे को kiss करने लगे तभी हमारे दोस्तों ने देख लिया और हल्ला करने लगे और मैं सरमा के वह से भाग गई ,……..

फिर जैसे हमारा 10th खत्म हुआ बनी के घर वालो ने अपना घर change कर दिया और उस दिन से मेरा बनी से बात नहीं हुआ और मैं उदास रहने लगी ….

लगभग 1 महीने बाद collage पढ़ने गई तो देखा की फर्स्ट बेंच पर बनी और मेरे स्कूल के दोस्त बैठे है , जिन्हें देख कर मैं बहुत खुस हुई , लेकिन मैं गुस्सा हो गयी की बनी मुझसे बिना बोले चला गया था |

बनी मेरे पास आया और बोला की मुझे माफ़ कर दो मैं तुम्हें बताने वाला था तभी आचानक घर खाली कर के जाना पड़ा i am so sorry my love

मुझसे रहा नहीं गया और मैं बनी को गले लगा ली और मैंने कहा आइन्दा मुझे छोड़ कर गये तो तुम्हें मार डालूंगी और मेरे आँख से आंसू गिराने लगे तभी बनी ने मुझे चुप कराया और कहा अरे बाबा नहीं जाऊंगा छोड़ कर तुम्हें कहीं …………!!!!!

तुम्हारे लिए तो मैंने इस collage में नामांकन कराया है और तुम्हारा ही सब्जेक्ट लिया है | ताकि हम दोनों साथ रह सके और अपने ज़िन्दगी को इंजॉय कर सके |

ऐसे ही समय बीतता गया और मेरे और बनी की पढाई समाप्त हो गई और हम फिर कुछ दिनों के लिए अलग हो गये लेकिन हमने साथ रहने की कसम खा ली , की हम दोनों कभी अलग नहीं रहेंगे और बनी को उसके माँ- बाप उसे इंजीनियरिंग पड़ने कोटा भेज दिए लेकिन हमने जो कसम खाई थी साथ रहने की उसमे बनी मेरे लिए कॉलेज और सब्जेक्ट ले कर निभा दिया था |



अब कसम निभाने की बारी मेरी थी , मेरे माँ – बाप चाहते थे की मैं डॉक्टर की पढाई पढूं लेकिन मैंने साफ मन कर दिया और कहा की मुझे इंजीनियरिंग करना है और में कोटा से करना चाहती हूँ |

मैंने जिद करके कोटा में बनी के कॉलेज में और उसी के सब्जेक्ट में दाखिला  ले लिया |

ये बात मेने बनी को हीं बताई थी की में उसी के कॉलेज में और उसी के क्लास में ज्वाइन हुई हूँ ……………..ऐसे तो में और बनी रोज बाते करते थे लेकिन में बनी को सरप्राइज देना चाहती थी |

अगले दिन कॉलेज में हम दोनों का मुलाकात हुआ और बनी मुझे देख कर चौक गया …………………..

 

आगे क्या हुआ हमारी कहानी जानने के लिए आप मुझे message कर सकते हैं

और मेरी कहानी पढ़ने के लिए edkshayari में login करो

आगे की कहानी जानने के लिए comment करे और साथ ही साथ feedback जरूर करे …………

 

और दोस्तों like और share जरूर करें …….


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

Confused Confused
0
Confused
Sad Sad
0
Sad
FUN FUN
4
FUN
hate hate
0
hate
win win
3
win
SEXY SEXY
3
SEXY
geeky geeky
0
geeky
love love
6
love
lol lol
2
lol
omg omg
5
omg
edk shayari

Hello , This is Shayari sharing website .Where you will find good stories and good poetry and different types of shayari and image and you can read more beautiful content . you can easily share your friends.

One Comment